Loading...

सब्सक्राइब करें सब्सक्राइब करें सब्सक्राइब करें

नींद के चरण और गहरी नींद के लाभ

23 अगस्त 2022 - पारुल सैनी, वेबमेडी टीम


नींद मानव जीवन का एक चौथाई से एक तिहाई हिस्सा है। एक अच्छी रात की नींद नियमित व्यायाम और स्वस्थ आहार जितनी ही महत्वपूर्ण है। जब आपको अच्छी नींद नहीं आती है, तो आपका शरीर गंभीर शारीरिक परिणामों से ग्रस्त होता है।

Loading...

नवीनतम वीडियो के लिए वेबमेडी यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

नींद एंडोक्राइन और इम्यून सिस्टम के कामकाज में एक अहम् भूमिका निभाती है। नींद के दौरान, शरीर के अधिकांश सिस्टम्स उपचय अवस्था में होते हैं, जो इम्यून सिस्टम, नर्वस सिस्टम, स्केलेटल सिस्टम और मस्कुलर सिस्टम को ठीक करने में मदद करते हैं।

इस लेख में, हम नींद के चरणों और गहरी नींद के लाभों का वर्णन करेंगे।

नींद के चरण

जब आप सोते हैं, तो आपका मस्तिष्क नींद के चार चरणों से होकर गुजरता है। चरण 1 से 3 को नॉन-रैपिड आई मूवमेंट, यानि N.R.E.M, स्लीप माना जाता है, जिसे शांत नींद भी कहा जाता है। स्टेज 4 रैपिड आई मूवमेंट, यानि R.E.M, स्लीप है, जिसे एक्टिव स्लीप या पैराडॉक्सिकल स्लीप भी कहा जाता है।

गैर-R.E.M नींद पहले होती है और इसके तीन चरण होते हैं: N1, N2, और N3, जिनमें से अंतिम को डेल्टा स्लीप भी कहा जाता है।

R.E.M नींद, जिसे पैराडॉक्सिकल नींद के रूप में भी जाना जाता है, कुल नींद के समय के एक छोटे हिस्से का प्रतिनिधित्व करती है।

नींद का चक्र सामान्य रूप से इस क्रम में आगे बढ़ता है: पहले N1, फिर N2, फिर N3, फिर N2, फिर R.E.M. ।

R.E.M नींद तब आती है जब कोई व्यक्ति गहरी नींद से स्टेज 2 या स्टेज 1 पर लौटता है।

आइए जानते हैं नींद के 4 चरणों के बारे में:

  • प्रथम चरण

    नींद चक्र का पहला चरण जागने और नींद के बीच का समय है। चरण 1 नींद के दौरान:

    • आपका दिमाग धीमा हो जाता है,
    • आपके दिल की धड़कन, आपकी आंखों की गति, और आपकी सांस धीमी हो जाती है,
    • आपका शरीर आराम करता है, और आपकी मांसपेशियों में कम्पन हो सकती है।

    नींद की यह छोटी अवधि लगभग पांच से दस मिनट तक रहती है। इस समय, मस्तिष्क अभी भी काफी सक्रिय होता है और मस्तिष्क में थीटा वेव्स का उत्पादन होता है।

  • दूसरा चरण

    लोग अपने कुल सोने के समय का लगभग 50% चरण 2 नींद के दौरान बिताते हैं। यह चरण प्रति चक्र लगभग 20 मिनट तक रहता है। चरण 2 नींद के दौरान:

    • आप अपने आस पास के बारे में कम जागरूक होते हैं,
    • आपके शरीर का तापमान गिरता है,
    • आपकी आँखों की मूवमेंट बंद हो जाती है, और
    • आपकी सांस और हृदय गति अधिक नियमित हो जाती है।

    मस्तिष्क में तेज़ी से ब्रेन वेव एक्टिविटी होती है, जिसे स्लीप स्पिंडल के रूप में जाना जाता है। इस चरण में, मेमोरी कंसोलिडेशन होती है। मस्तिष्क पिछले दिन से प्राप्त नई यादों को इकट्ठा करता है, प्रोसेस करता है और फ़िल्टर करता है। फिर शरीर चरण 3 नींद और R.E.M नींद की तैयारी में धीमा हो जाता है, जो गहरी नींद के चरण हैं।

  • तीसरा चरण

    N.R.E.M चरण 3 नींद के दौरान, मस्तिष्क में डेल्टा तरंगे उभरने लगती हैं। नींद की इस अवस्था को डेल्टा स्लीप भी कहते हैं। यह गहरी नींद की अवधि है जहां वातावरण में कोई भी शोर या गतिविधि सोए हुए व्यक्ति को जगाने में विफल हो सकती है। पर्याप्त N.R.E.M चरण 3 नींद लेने से आप अगले दिन तरोताजा महसूस कर सकते हैं। N.R.E.M चरण 3 नींद के दौरान:

    • आपके मसल्स पूरी तरह से रिलैक्स्ड हो जाते हैं,
    • आपका ब्लड प्रेशर कम हो जाता है, और सांस धीमी हो जाती है, और आप अपनी गहरी नींद की ओर बढ़ते हैं।

    इस गहरी नींद की अवस्था के दौरान, आपका शरीर अपनी शारीरिक मरम्मत शुरू कर देता है। इस बीच, आपका मस्तिष्क यादों को कंसोलिडेट करता है, जैसे कि व्यक्तिगत अनुभव और अन्य चीजें जो आपने सीखी हैं।

  • चौथा चरण

    R.E.M नींद सोने के लगभग 90 मिनट बाद शुरू होती है। इस समय

    • आपका मस्तिष्क गतिविधि से जगमगाता है,
    • आपका शरीर रिलैक्स्ड और स्थिर हो जाता है,
    • आपकी सांस तेज और इर्रेगुलर होती है,
    • आपकी आंखें तेजी से चलती हैं, और
    • आप सपने देखने लगते हो।

    R.E.M नींद के दौरान, आपके मस्तिष्क की गतिविधि, जागे हुए मस्तिष्क की गतिविधि से मिलती-जुलती है। हालाँकि, आपका शरीर अस्थायी रूप से स्थिर है। यह एक अच्छी बात है, क्योंकि यह आपको अपने सपनों को पूरा करने से रोकता है।

गहरी नींद के फायदे

गहरी नींद के दौरान मस्तिष्क में ग्लूकोज मेटाबोलिज्म बढ़ता है, जिससे शार्ट-टर्म और लॉन्ग-टर्म मेमोरी बढ़ती है। गहरी नींद में पिट्यूटरी ग्लैंड महत्वपूर्ण हार्मोन, जैसे ग्रोथ हार्मोन को निकालता है, जिससे शरीर की वृद्धि और विकास होता है। गहरी नींद के अन्य लाभों में शामिल हैं:

  • जिस्म में ऊर्जा की बहाली,
  • सेल पुनर्जनन,
  • मांसपेशियों में ब्लड सप्लाई का बढ़ना,
  • टिश्यू और हड्डियों की वृद्धि और मरम्मत होना, और
  • इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाना।

सूचित रहें।


नवीनतम समाचार, केस स्टडी और विशेषज्ञ सलाह सहित पुरस्कार विजेता उद्योग कवरेज तक पहुंच प्राप्त करें।

प्रौद्योगिकी में सफलता सूचित रहने के बारे में है!

सोशल प्लेटफॉर्म पर हमें फॉलो करें


नवीनतम वीडियो के लिए वेबमेडी यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

संबंधित पोस्ट


श्रेणियाँ


ट्रेंडिंग पोस्ट


सूचित रहें।


नवीनतम समाचार, केस स्टडी और विशेषज्ञ सलाह सहित पुरस्कार विजेता उद्योग कवरेज तक पहुंच प्राप्त करें।

प्रौद्योगिकी में सफलता सूचित रहने के बारे में है!

सब्सक्राइब करें सब्सक्राइब करें सब्सक्राइब करें

सोशल प्लेटफॉर्म पर हमें फॉलो करें


नवीनतम वीडियो के लिए वेबमेडी यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

Loading...

सोशल प्लेटफॉर्म पर हमें फॉलो करें


नवीनतम वीडियो के लिए वेबमेडी यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

Loading...

© 2022 अर्डिनिया सिस्टम्स प्राइवेट लिमिटेड। सर्वाधिकार सुरक्षित।
प्रकटीकरण: इस पृष्ठ में सहबद्ध लिंक हैं, जिसका अर्थ है कि यदि आप लिंक के माध्यम से खरीदारी करने का निर्णय लेते हैं, तो हमें एक कमीशन मिलता है।
गोपनीयता नीति
वेबमेडी अर्डीनिया सिस्टम्स का एक उत्पाद है।